What is keyboard in hindi | कंप्यूटर कीबोर्ड क्या है

दोस्तों आज के इस अर्टिकल What is keyboard in hindi में मैं आपको keyboard की पूरी जानकारी हिंदी में देने बाला हूँ। अगर आपको कीबोर्ड की पूरी जानकारी चाहिए तो आपको इस आर्टिकल को सुरु से लास्ट तक पढ़ना पड़ेगा तभी आपको समझ में आयेगा की keyboard kya hai या keyboard kise kaha jata hai?

मुझे उमीद है ये आर्टिकल What is keyboard in hindi पढ़ कर आपको अच्छा लगेगा और keyboard की सभी जानकारी आपको इसी आर्टिकल में मिल जायेगा। इस आर्टिकल में आप keyboard kya hai ये तो जानेंगे ही साथ में ये भी जानेंगे की keyboard कितने प्रकार का होता है और keyboard में कोंन सी keys का का उपयोग है।

What is keyboard in hindi | कंप्यूटर कीबोर्ड क्या है?

Keyboard एक input device है जिसे हिंदी में कुंजी पटल कहा जाता है। keyboard का उपयोग computer में Command, Text, Numerical data और दूसरे data को enter करने के लिए किया जाता है।

What is keyboard in hindi - कंप्यूटर कीबोर्ड क्या है?
What is keyboard in hindi – कंप्यूटर कीबोर्ड क्या है?

Keyboard computer का महत्वपूर्ण हिशा होता है जिसे द्वारा computer में कोई भी डाटा enter किया जाता है। आसान भाषा में कहा जय तो keyboard कंप्यूटर का चाभी होता है जिससे कंप्यूटर को चलाया जाता है। keyboard में बहुत सारी अलग अलग keys होता है जिसका उपयोग computer में command देने के लिए किया जाता है।

कुछ device में keyboard direct जोर दिया जाता है जैसे की Laptop में होता है, लेकिन कुछ device में USB केबल द्वारा या Bluetooth द्वारा wireless तरीके से keyboard connect किया जाता है।

Keyboard में टाइपराइटर के जैसा keys होता है और user इस key को उंगली से दबाता है और key से स्विच किया गया latter, number या symbol का command computer की CPU में input हो जाता है या ये कह ही type हो जाता है फीर CPU उस डेटा का output दिखता है।

दोस्तों अब आपको पता चल गया होगा की What is keyboard in hindi | कंप्यूटर कीबोर्ड क्या है। अब आप जानेंगे की कीबोर्ड कैसे काम करता है और कीबोर्ड कितने प्रकार का होता है?

Keyboard कैसे काम करता है?

Keyboard का काम करने की तरीका बहुत सरल है। Keyboard में स्थित सभी बटन को एक इलेक्ट्रॉनिक स्विच के द्वारा अलग अलग key से जोरा गया है, जिससे keyboard की किसी भी बटन को दबाने पर उस key का इलेक्ट्रॉनिक single CPU में Input हो जाता है और CPU इसे डेटा के रूप में Output दे देता है।

आसान भाषा में कहे तो keyboard में बहुत सारे बटन होता है और प्रतियेक बटन पर अलग अलग Letter, Number या Symbol अंकित रहता है। इस सभी बटन के निचे अलग अलग एक इलेक्ट्रॉनिक स्विच लगा होता है और सभी बटन के ऊपर अंकित Letter, Number या Symbol को उसी key से स्विच के द्वारा जोरा गया रहता है।

जब भी किसी key को दवाया जाता है तो उस key से इलेक्ट्रॉनिक single द्वारा CPU में Input भेजा जाता है और फीर CPU उस Input को डेटा में बदल कर Output दिखा देता है।

Types of keyboard – कीबोर्ड कितने प्रकार का होता है?

Keyboard के Layout के आधार पर तीन प्रकार के keyboard होते हैं जिसे QWERTY keyboard, DVORAK keyboard और AZERTY keyboard के नाम से जाना जाता है।

लेकिन संरचना के आधार पर इन तीनो प्रकार के keyboard में कई बदलाव करके बहुत प्रकार के keyboard बनाया गया है जिसका list नीचे दिया गया है।

  1. QWERTY Keyboard
  2. AZERTY Keyboard
  3. DVORAK Keyboard
  4. WIRELESS Keyboard
  5. ERGONOMIC Keyboard
  6. GAMING Keyboard
  7. MEMBRANE Keyboard
  8. MECHANICAL Keyboard

1. QWERTY Keyboard

QWERTY keyboard पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा पसंदीदा और सबसे ज्यादा उपयोग होने वाली keyboard Layout हैं। Qwerty keyboard Layout को टाइपराइटर की तरह ही बनाया गया है। आपको बता दे की टाइपराइटर भी इसी फॉर्मेट था यानी Q,W,E,R,T,Y के फॉर्मेट में।

QWERTY Keyboard layout
QWERTY Keyboard layout

इसलिए जब Computer आया और पहले बार keyboard को बनाया गया तो इसे QWERTY फॉर्मेट में ही बनाया गया ताकि उपयोगकर्ता को दिक्कत ना हो, उपयोग करने में आसान हो।

Christopher Latham Sholes ने सन् 1873 में Qwerty keyboard layout को बनाया था। इस keyboard layout को बनाने पीछे उसका मकसद टाइपिंग स्पीड को कम करना था ताकि लोग फास्ट टाइपिंग करने में जो गलती करते हैं वो न करे।

2. AZERTY Keyboard

AZERTY Keyboard को QWERTY कीबोर्ड Layout के आधार पर फ्रांस में बनाया गया। Azerty keyboard को मुख्य रूप से फ्रांस और यूरोप महाद्वीप के कुछ देशों में उपयोग किया जाता है।

AZERTY Keyboard layout
AZERTY Keyboard layout

QWERTY keyboard और AZERTY keyboard में कुछ अंतर है जैसे की –

  • Azerty keyboard में Q और W key को A और Z key से इंटरचेंज का दिया गया है।
  • Azerty keyboard में M key को L key के right side में रखा गया है।
  • Azerty keyboard में Qwerty keyboard की तरह keyboard की right side में Numerical keys नही होता है।

3. DVORAK Keyboard

Qwerty keyboard की तुलना में Dvorak keyboard से टाइपिंग काफी speed में किया जाता है। Dvorak keyboard को टाइपिंग speed को बढ़ाने के लिए और टाइपिंग error को कम करने के लिए design किया गया था।

DVORAK Keyboard layout
DVORAK Keyboard layout

इस keyboard को बनाने का मकसद ये था की keyboard की बिच वाली line में सबसे ज्यादा उपयोग होने वाली alphabets होनी चाहिये। इस keyboard में बाये तरफ सभी स्वर और विराम चिन्ह है और दायें तरफ सभी व्यंजन चिन्ह है।

4. WIRELESS Keyboard

जैसा की नाम से ही स्पष्ट पता चल रहा है कि इस keyboard में wire नही होता है इसलिए Wireless keyboard को computer या अन्य device से connect करने के लिए wire नही जोरना परता है। Wireless keyboard को Bluetooth, IR Technology या Radio frequency कीए द्वारा computer से connect किया जाता है।

Wireless Keyboard layout
Wireless Keyboard layout

Wireless keyboard का उपयोग करके computer से थोरा दूर रह का भी computer को चलाया जा सकता है। Wireless keyboard में battery लगता है और जब battery डिस्चार्ज हो जाता है तब change करना परता है। wireless keyboard आम keyboard से काफी हल्का होता है, जिससे इसे कही लेकर आने जाने में सुबिधा होता है। इसलिए इस keyboard को काफी पसंद किया जाता है।

5. ERGONOMIC Keyboard

जब आप घंटो keyboard पर टाइपिंग करते है तो आपकी हाथ में दर्द सा होने लगता है क्यों की हाथ की मांस पेसियां का खिचाव होता है, इसलिए मानव स्वास्थ को देखते हुए Ergonomic keyboard को बनाया गया है।

Ergonomic Keyboard layout
Ergonomic Keyboard layout

Ergonomic keyboard में हाथ को रख कर टाइपिंग करने के लिए निचे space दिया गया रहता है जिससे आपकी हाथों को आराम मिल सके। ergonomic keyboard आम keyboard की तुलना में महगा होता है इसलिए ये keyboard का use कम ही लोग करते हैं।

6. GAMING Keyboard

Gaming keyboard के नाम से स्पष्ट पता चल रहा है की ये keyboard Gaming के लिए ही बनाया गया है। अभी के समय में gaming की बढती चाहत को लेकर इस keyboard को market में लाया गया।

Gaming Keyboard layout
Gaming Keyboard layout

आप Qwerty keyboard का भी gaming के लिए use कर सकते हैं लेकिन आपको gaming की पूरी इनजोए के लिए Gaming keyboard का use करना चाहिए।

Gaming keyboard बाकि के keyboard की तरह ही है लेकिन इसमें multimedia keys और LED screen की features एक्स्ट्रा में दिया गया है। gaming keyboard की बनाबट को देख कर इसे लोग जल्दी पसंद कर लेते हैं और इसमें हाथ के आराम के लिए निचे की side थोरा space दिया गया है।

7. MEMBRANE Keyboard

Membrane keyboard में वाकी keyboard की तुलना में keys के बदले में प्रेसर पेड का उपयोग किया जाता है। यानि आसान भाषा में कहे तो इस keyboard में दुसरे keyboard की तरह बटन keys नहीं होता है।

Membrane keyboard layout
Membrane keyboard layout

Membrane keyboard में बटन keys के बदले में character और symbol फ्लैट पर छपे होते हैं जो टच करने पर काम करता है और जिस keys पर टच करते हैं उसकी data को CPU में भेजता है।

8. MECHANICAL Keyboard

Mechanical keyboard में हर keys के निचे स्प्रिंग स्विच लगा होता हैं के जिसके कारण इस keyboard में किसी भी key को दबाने पर आवाज आता है। mechanical keyboard की किसी भी key को दबाने पर उस key का character को electronic सिंग्नल के द्वारा CPU को भेजा जाता है और फीर CPU उस character को आउटपुट दिखता है।

Mechanical Keyboard layout
Mechanical Keyboard layout

Mechanical keyboard का दाम Membrane keyboard से कम होता है और ये keyboard membrane keyboard से फ़ास्ट होता है।

Types of key in keyboard – कीबोर्ड में कुंजी के प्रकार

QWERTY keyboard layout पूरी दुनिया में अभी का सबसे लोकप्रिय keyboard है इसलिए आज मैं आपको qwerty keyboard layout की आधार पर ही keyboard की keys की संरचना के बारे में बताऊंगा।

वैसे तो अभी के qwerty keyboard layout में 105 keys है लेकिन इस keyboard की keys manufactures और operating system के आधार पर कम ज्यादा होता रहता है इसलिए आप कह सकते हैं की इस keyboard में लगभग 100 plus keys कोटा है।

Keyboard में उपस्थित सभी keys को एक विशेष कार्य के लिए बनाया गया है और इन सभी keys की संरचना कार्य के आधार पर 6 भागो में किया गया है, तो चाहिए हम इन सभी keys के बारे में बिस्तार से जान लेते हैं।

  1. Number keys
  2. Alphabet keys
  3. Function keys
  4. Special keys
  5. Control keys
  6. Cursor keys

1. Alphabet keys

Alphabet keys वो keys होता है जिसका keyboard में सबसे ज्यादा उपयोग किया जाता है। Alphabet keys में A से Z तक का कुल 26 letter अगल अलग shapes में अंकित होता है। इस keys के किसी भी key को आप capital letter और small letter दोनों में use कर सकते हैं। 

अगर आप सभी Alphabet keys को capital letter में लिखना चाहते हैं तो आप पहले Caps Lock key को प्रेस कीजिये फीर आपके keyboard में Caps Lock का Indicator जलने लगेगा, अब आप A से Z तक किसी भी key को दबायेंगे तो वो key Capital letter में type होगा। इस keys में आप किसी letter को Shift key के साथ दबाते है तो भी वो keys capital letter में type होता है।

Qwerty keyboard में Alphabet keys तिन row में स्थित होता है पहली row में Q,W,E,R,T,Y,U,I,O,P, दूसरी row में A,S,D,F,G,H,J,K,L  और तीसरी row में Z,X,C,V,B,N,M.

2. Number  keys

Number keys का उपयोग कंप्यूटर में number को इनपुट करने के लिए किया जाता है। ये keys Alphabet keys के ठीक ऊपर एक row में होती है और keyboard के right side में होती है।

Number keys में 0 से लेकर 9 तक का संख्या और कुछ गणितीय सूत्र होता है। Number keys keyboard में एक row में 1,2,3,4,5,6,7,8,9,0 की संख्या में स्थित होता है और keyboard के बाये side में संख्यात्मक कीपैड के रूप में स्थित होता है।

3. Function keys

Function keys keyboard की सबसे ऊपर एक row में स्थित होता है। इस keys में टोटल 12 keys होता है जिस पर F1 से F12 तक नाम अंकित होता है। function keys अलग अलग software के हिसाब से अलग अलग काम करता है।

Function keys का सभी keys keyboard के ऊपर की side में एक row में F1,F2,F3,F4,F5,F6,F7,F8,F9,F10,F11,F12 की क्रमांक में स्थित हिता है।

4. Special keys

Special keys का उपयोग किसी स्पेशल काम को करने के लिए ही किया जाता है। special keys को command keys भी कहा जाता है क्योंकि इस keys से किसी न किसी तरह का command दिया जाता है।

Special keys में आता है Spacebar key, Escape key, Caps Lock key, Enter key, Backspace key, Delete key, End key, Insert key, Tab key, Home key आदि।

5. Control keys

Control keys, जैसा की नाम से ही पता चलता है की ये keys control करने की काम करता है। Control keys को modifier keys भी कहा जाता है क्योंकि इस keys की कुछ key से अकेले कोई कार्य नहीं किया जाता है लेकिन इस keys के साथ किसी key को दबाने से उस key की इनपुट बदल जाता है।

Control keys में आता है Shift key, Ctrl key, Alt key, Windows key, Num Lock key, Pouse key, PrtScr key, Scroll bar आदि। 

6. Cursor keys

Cursor keys को Navigation keys के नाम भी जाना जाता है। Cursor keys में चार keys होता है जिस पर अलग अलग तरह का Arrows का निसान होता है। इस चारो keys का उपयोग कर्सर को Left, Right, Up और Down करने के लिए किया जाता है।

Cursor keys कर्सर को display पर माउस की तरह move करता है इसलिए इस keys की चारो keys का उपयोग करके page पर कही भी जाया जा सकता है। Cursor keys की उपयोग किसी website page को scroll करने के लिए भी किया जाता है।

Keyboard shortcut keys in hindi | कीबोर्ड की शॉर्टकट कुंजी हिंदी में जाने

S no.Shortcut keyShortcut key का उपयोग
1Ctrl + Aसभी डेटा select करने के लिए
2Ctrl + Bचुने हुए text को बोल्ड करने के लिए
3Ctrl + Cचुने हुए डेटा को copy करने के लिए
4Ctrl + DInternet ब्राउजर में खोले गए page को बुकमार्क करने के लिए
5Ctrl + FFind box खोलने करने के लिए
6Ctrl + Iचुने गए text को Italics करने के लिए
7Ctrl + Kचुने गए text में hyperlink इन्सर्ट करने के लिए
8Ctrl + Nखुले हुए software में new blank page खोलने के लिए
9Ctrl + ONew file खोलने के लिए
10Ctrl + PDocument Print करने के लिए
11Ctrl + SSave करने के लिए
12Ctrl + Uचुने गये text को Underline करने के लिए
13Ctrl + VCopy किये गए डेटा को paste करने के लिए
14Ctrl + Xचुने गए data को move या cut करने के लिए
15Ctrl + YReadu करने के लिए
16Ctrl + ZUndu करने के लिए
17Alt + Fखुले हुए program में file menu की option खोलने के लिए
18Alt + Eखुले हुए program में edit menu की option खोलने के लिए
19Alt + F4खुले हिये program को बंद करने के लिए
21Alt + Tabखुले हुए सभी program को स्विच करने के लिए
22Ctrl + End खुले हुए document के अंत में जाने के लिए
23Ctrl + Del चुने गए डेटा को Delete करने के लिए
24Ctrl + Home खुले हुए document की सुरुआत में जाने के लिए
25Ctrl + Ins चुने हुए data को copy करने के लिए
26Shift + Ins copy किये गए data को paste करने के लिए

Conclusion – निष्कर्ष

दोस्तों मैं उमीद करता हूं कि आपको ये आर्टिकल What is keyboard in hindi पढ़ कर अच्छा लगा होगा। इस आर्टिकल में keyboard kya hai, keyboard कैसे काम करता है, keyboard कितने प्रकार के होते हैं, keyboard में कितने प्रकार के keys होता है यानी आपको कीबोर्ड की पूरी जानकारी हिंदी में समझ आगया होगा। 

वैसे तो मैं इस आर्टिकल What is keyboard in hindi में अपने तरफ से सब कुछ सही सही और सरल भाषा में keyboard की पूरी जानकारी हिंदी में देने की कोशिश किया हूं, फिर भी आपको लगे की इस आर्टिकल में कुछ त्रुटि है तो आप मुझे comment करके बता सकते हैं, मैं उस त्रुटि को तुरंत update करने की कोशिश करूंगा।

अगर इस आर्टिकल What is keyboard in hindi को पढ़ने के बाद आपके मन में कोई सबाल आया हो या आप डिजिट मार्केटिंग से related की सबाल मुझसे पूछना चाहते हैं तो आप मुझे comment कर सकते हैं या मेरे इस Blog के Contact Us Page में जाकर मुझे contact कर सकते हैं। इस आर्टिकल What is keyboard in hindi को पढ़ने के लिए बहुत बहुत धन्याबाद।

ये आर्टिकल भी पढ़े –

Mobile से blogging करके पैसे कैसे कमाये?

YouTube se paise kaise kamaye?

Facebook से पैसे कैसे कमाये?

Instagram क्या है और कैसे चलाते हैं?

ब्लॉग्गिंग क्या है? और ब्लॉग्गिंग से पैसे कैसे कमाये?

घर बैठे online पैसे कैसे कमाये?

Social media optimization क्या है?

Social media marketing kya hai?

Digital marketing क्या है?

Email marketing kya hai?

Affiliate marketing क्या है?

PhonePe क्या है और कैसे उपयोग करे?

Google pay क्या है और कैसे उपयोग करे?

eRupi क्या है और eRupi को use करने से क्या फायदा होगा?

UPI क्या क्या और इसका उपयोग कैसे करें?

MS Word kya hai? – एम एस वर्ड कैसे सीखें?

MS Excel kya hai? – excel क्या है और कैसे सीखे?

MS Office kya hai? – एम एस ऑफिस क्या है?

Basic Computer in hindi – बेसिक कंप्यूटर की जानकारी हिंदी में जाने.

Computer Shortcut key list in hindi

Instagram क्या है और कैसे चलाते हैं?

ब्लॉग्गिंग क्या है? और ब्लॉग्गिंग से पैसे कैसे कमाये?

Facebook kya hai? और facebook कैसे चलाते हैं?

गूगल एड्स क्या है?

Google adsense से पैसे कैसे कमाये?

Leave a Comment