Internet kya hai aur kaise kaam karta hai | What is internet in hindi

Internet kya hai aur kaise kaam karta hai | What is internet in hindi | इंटरनेट की पूरी जानकारी हिंदी में जाने

Table Of Contents hide
Internet kya hai aur kaise kaam karta hai | What is internet in hindi | इंटरनेट की पूरी जानकारी हिंदी में जाने

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में मैं आपको Internet की पूरी जानकारी हिंदी में देने वाला हूँ। जिसमे आप समझेंगे की Internet kya hai, Internet कैसे काम करता है, इंटरनेट का हिंदी मतलब क्या है, इंटरनेट का संस्थापक कौन है या इंटरनेट का खोज किसने किया, इंटरनेट की विशेषता क्या है, भारत में इंटरनेट कब सुरु हुआ, Internet का उपयोग कैसे किया जाता है आदि, साथ में ये भी जानेंगे की Internet का उपयोग करने से क्या लाभ और क्या हानि होता है?

अगर आप Internet user हैं या आप एक स्टूडेंट हैं तो कभी ना कभी आपके मन में ये प्रश्न अवस्य आया होगा की Internet kya hai, Internet कैसे काम करता है या फीर Internet का खोज किसने किया है? यैसे और कई प्रश्न internet के बारे में आपके मन में आता होगा। इस अभी प्रश्न का जबाब आज मैं आपको इस आर्टिकल के माध्यम से सरल भाषा में देने जा रहा हूँ।

दोस्तों आपसे अनुरोध है की इस आर्टिकल Internet kya hai को आप सुरु से अंत तक अवस्य पढ़े ताकि इस आर्टिकल को लिखने में मुझे जो मेहनत लगा है वो सफल हो सके। मेरा कोशिश रहता है की किसी तरह आपलोगों तक अच्छी और सही जानकारी को पहुँचाना। मैं इसलिए बहुत मेहनत से सारी जानकारी को इकट्ठा करके आर्टिकल लिखता हूँ। अगर आपको ये Internet kya hai (इंटरनेट क्या है) की जनकारी अच्छा लगे तो आप अपने दोस्तों के साथ अवस्य शेयर करे ताकि उन्हें भी सही जानकारी मिल सके।

Internet kya hai – What is internet in hindi – इंटरनेट क्या है?

Internet सूचना तकनीक का सबसे आधुनिक प्रणाली है। Internet को विभिन्न कंप्यूटर Networks का एक विश्व स्तरीय समूह कहा जा सकता है। Internet के द्वारा हजारों लाखों कंप्यूटर को एक साथ जोरा जा सकता है।

Internet kya hai
Internet kya hai – What is Internet in hindi

आसान भाषा में समझे तो internet एक Networks का जाल है जो पूरी दुनिया में फैला हुआ है, जो की पूरी दुनिया की information को इकट्ठा करके रखता है और लोगो तक इस information को पहुंचाने का काम करता है।

Internet के अंतर्गत अनेक प्रकार के प्रोटोकॉल तकनीकीयों का उपयोग किया जाता है जिसके द्वारा अलग अलग कार्य किया जाता है। internet को विश्वव्यापी विज्ञापन का माध्यम कहा जा सकता है जो किसी भी देश के एक company या सरकर के अधीन नहीं होता है।

वैसे तो कंप्यूटर में केवल के द्वारा आसानी से internet connect किया जाता है लेकिन और भी कई तरीके हैं जिससे कंप्यूटर से internet को जोरा जा सकता है। जैसे की Wireless connection और Bluetooth के द्वारा।

Internet का उपयोग करने से पहले आपको किसी Internet Service Provider से internet data खरीदना परता है तभी आप internet का उपयोग कर पाते हैं। internet हमारे लिए जरुरत बन गया है और आज हम लगभग अनेको कार्य के लिए internet पर निर्भर रहते है।

अब आपको पता चल गया होगा की Internet kya hai या इंटरनेट किसे कहा जाता है। तो चलिए अब आप जानेंगे की Internet की full form क्या है, इसके बाद आप Internet की पूरी जानकारी hindi में जानेंगे।

Full Form of internet in hindi | Internet का पूरा नाम क्या है?

Internet का पूरा नाम (full form) Inter Connected Networks है। internet neworks का एक यैसा जाल है जो पूरी दुनियां में फैली हुयी है। Internet के द्वारा पूरी दुनियां की सभी प्रकार के Data server या Database जुरे हुये है।

Internet के माध्यम से Goverments Database या सभी school, collage, university आदि database के अलावा आपके computer और mobile का भी database ज़ुरा हुआ है। इंटरनेट की मदद से आप पूरी दुनियां में किसी से भी अपना information शेयर कर सकते हैं या किसी का information प्राप्त कर सकते हैं।

Internet Meaning in hindi | इंटरनेट का हिंदी मतलब क्या है?

अब आपको पता चल गया होगा की Internet का पूरा नाम Inter Connected Networks होता है जो की एक अंग्रेजी word है। लेकिन अब आपके मन में अभी भी ये प्रश्न होगा की Internet अंग्रेजी word है तो Internet का हिंदी अर्थ क्या है या Internet का हिंदी मतलब क्या है।

Internet का हिंदी अर्थ या हिंदी मतलब “अंतरजाल” होता है। यानि की internet पूरी दुनियां में फैली हुयी Networks का एक अंतरजाल है जो पूरी दुनियां की कंप्यूटर को आपस में जोरता है।

Internet का संस्थापक कौन है? या Internet की खोज किसने किया?

इंटरनेट खोज कोई एक व्यक्ति ने नहीं की वल्कि बहुत सारे Scientist और Enginiyars ने बिलकर internet की स्थापना किया है इसलिए internet का कोई एक संस्थापक नहीं है।

अमेरिका की एक Advanced Research Projects Agency (ARPA) ने सन 1969 ई० में ARPANET की स्थापना किया जिसके माध्यम से किसी कंप्यूटर को किसी भी कंप्यूटर से connect किया जा सकता था और सभी connected कंप्यूटर में गुप्त संदेश का आदान प्रदान किया जा सकता था। बाद में सन 1980 ईo में ARPANET का नाम बदल दिया गया जिसे आज हम लोग Internet नाम से जानते हैं।

Internet कब सुरु हुआ?

1957 ई० में जब cold war चल रहा था तब अमेरिका ने एक Advanced Research Projects Agency (ARPA) का स्थापना किया। उस Agency का उधेश्य एक यैसी Technology का बनाना था जिसके द्वारा एक कंप्यूटर को दूसरे कंप्यूटर से connect किया जा सके।

इस Agency ने 1969 ई० में ARPANET की स्थापना की जिसके द्वारा किसी कंप्यूटर को किसी दूसरे कंप्यूटर से जोरा जा सकता था। ARPANET के द्वारा एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में massage भेजा जाने लगा। शुरुआत में APRANET का उपयोग करके US के पांच Universities की कंप्यूटरों को एक साथ connect किया गया। इसके बाद 1972 ई० तक ये दुनिया के 23 Node और लगभग बहुत सारे देशों से जुर चुका था।

1980 ई० तक आते आते ARPANET का नाम बदल कर Internet कर दिया गया। शुरुआत में Internet का उपयोग Private Network के तौर पर किया गया जिससे सिर्फ गुप्त जानकारी ही भेजा जाता था लेकिन बाद में Internet में दिन प्रतिदिन सुधार होते गया और फीर सबके के लिए Internet का उपयोग चालू कर दिया गया। अभी के समय Internet दुनिया की सबसे बरा Business बन गया है।

भारत में इंटरनेट कब सुरु हुआ?

भारत में VSNL (Videsh Sanchar Nigam Limited) के द्वारा सबसे पहले Internet की शुरुआत 14 अगस्त 1995 को किया गया और इसका उपयोग 15 अगस्त 1995 को किया गया था। VSNL उस समय भारत की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी था और इसी ने सबसे पहले भारत में Internet की सेवा प्रदान की थी।

इसके बाद भारत में Internet को सबसे पहले बड़े बड़े शहरों तक पहुंचाया गया और 1996 ई० में Rediffmail जैसी website की शुरुआत किया गया जिस website पर कोई भी अपना Email ID फ्री में बना सकता था। इसी साल मुंबई में सबसे पहला Cyber Cafe भी खुला।

फिर 1997 ई० में nokari.com नाम की website चालू हुआ जिसके बारे में सायद आप जानते होंगे। इसके बाद 1999 ई० में Webdunia की शुरुआत हुई।

भारत में इस प्रकार धीरे धीरे Internet का विस्तार होता गया और 2000 ई० में Technology Act को संसद में पास कर दिया गया जिसके बाद इस Act को भारत में लागू कर दिया गया। भारत में Technology Act लागू होने के बाद इसी साल Yahoo India और Bsn जैसे website की लौंच किया गया। इसके बाद 2001 ई० में Railway की Online Website irctc.in की शुरुआत हुई।

Internet के प्रकार – Types of internet in hindi – इंटरनेट कितने प्रकार का होता है?

Internet एक public नेटवर्क्स बन गया है इसलिए कोई भी internet का service लेकर उसका उपयोग कर सकता है, लेकिन क्या आप जानते है की Internet कितने प्रकार का होता है? चलिए अब जान लेते हैं की Internet किसने प्रकार के होते है?

वैसे तो Internet का कोई प्रकार नहीं होता है लेकिन कंपनीयों ने internet की speed और Internet की Connection के आधार पर इसका कई प्रकार बना दिया है जिसके बारे में मैं आपको बताने जा रहा हूँ। 

1. Dial-up Connection / PSTN (Public Service Telephone Network Connection)

Dial-up connection सबसे बेसिक internet connection होता है जिसमें टेलीफोन line के माध्यम से कंप्यूटर में internet को connect किया जाता है। ये connection दुसरे connection की तुलना में सस्ता होता है और इसलिए काफी धीमी भी होता है। इस connection को kbps या mbps में मापा जाता है।

2. ISDN Connection

ISDN connection का पूरा नाम Integrated Service Digital Network है। ISDN connection Dial-up connection की तुलना में महंगा होता है और इसका speed भी Dial-up connection से ज्यादा होता है।

3. Leased Line Connection

Leased Line Connection में IP server एक टेलीफोन लाइन केबल से ज़ुरा हुआ रहता है और उस टेलीफोन लाइन केबल को कंप्यूटर से जोर कर internet connect किया जाता है। इस connection का 24 घंटा उपयोग किया जा सकता है।

4. Broadband Connection

Broadband internet connection में भी internet को device से connect करने के लिए Telephone line cable का उपयोग किया जाता है। इस प्रकार के internet connection के द्वारा Internet को High Speed access किया जाता है। इस प्रकार का internet connection दुसरे internet connection से महंगा होता है।

Broadband Connection चार प्रकार से user को हाई स्पीड डेटा प्रदान करता है जो निम्नलिखित है-

  1. Digital Subscriber Line (DSL)
  2. Cable Modem
  3. Fibre Optic
  4. Broadband over power line

5. VSAT (Very Small Aperture Terminal) Connection

VSAT internet connection एक Geo-Synchronous Satellite से ज़ुरा हुआ रहता है इसलिय इसे Geosynchronous Satellite के नाम से भी जाना जाता है। इस प्रकार के internet connection का ज़्यादातर उपयोग दूरसंचार और सुचना प्रदान करने के लिए किया जाता है।

VSAT के द्वारा जिन माध्यमों के बिच सूचनाओं का आदान प्रदान किया जाता है उसे सुचना Hub के नाम से जाना जाता है। सुचना Hub एक खास तरह का ग्राउंड स्टेशन होता है।

6. Wireless Connection

Wireless connection जैसा की नाम से पता चलता है की इस तरह का internet connection में Wire Less होता है जैसे की WiFi एक Wireless internet connection है। यानि की इस connection में किसी Wire या Line cable का उपयोग नहीं किया जाता है।

Wireless connection में internet को कंप्यूटर से connect करने के लिए Radio frequency का उपयोग किया जाता है। इस connection को आप secure रखने के लिए password लगा कर lock भी कर सकते हैं जीससे आपके अनुमति के बिना कोई इस internet connection को access नहीं कर पाए।

इस तरह के internet connection में Device को Internet से connect करने के लिए एक coverage Aria के अंदर ही रखना परता है। इस प्रकार के Internet Connection के coverage aria फिक्स किया गया रहता है और coverage aria से बाहर होने पर इंटरनेट काम नहीं करता है।

7. Satellite Connection

इस प्रकार का internet connection को Satellite के मदद से स्थापित किया जाता है और satellite की Signal के द्वारा connection को user तक पुहुंचाया जाता है।

8. Mobile Connection

इस प्रकार का internet connection का उपयोग अधिकतर mobile में किया जाता है। Telephone Service Provider (TSP) के द्वारा Mobile user को इस प्रकार का internet connection को अलग अलग plan में दिया जाता है। Mobile user अपने जरुरत और हैसियत के हिसाब से service plan खरीदता है।

Internet कैसे काम करता है?

Computers Internet के छोटे छोटे connection के माध्यम से आप में connected रहता है और ये Networks Gateway के माध्यम से मैंन Internet Networks से ज़ुरा होता है।

सभी कंप्यूटर internet पर एक दुसरे से connect रहता है और आपस में TCP या IP के माध्यम से communicate करता है जो की Internet का एक Basic protocol होता है। Internet में हो रहे सभी Transmission को TCP या IP के द्वारा ही manage किया जाता है चाहे वो Data, File या Documents कुछ भी हो।

आप जब भी अपने कंप्यूटर से कोई File किसी को भेजते है तो Internet protocol (IP) के मदद से आपका कंप्यूटर दुसरे कंप्यूटर से communicate करता है और Transmission Control protocol (TCP) की मदद से उस File को छोटे छोटे टुकरे में अलग किया जाता है, जिसे Datagrams या Packets कहा जाता है। इस सभी Packets में actual data का address part स्थित होता है।

इस पूरी प्रक्रिया में TCP और IP का अहम् रोल होता है। TCP का काम Data को छोटे छोटे Packets में अलग अलग करना और फीर दुसरे कंप्यूटर में इसे original form में लाना होता है जबकि IP का काम इस छोटे छोटे Packets को दुसरे कंप्यूटर में पहुंचना और फीर दुसरे कंप्यूटर में इस सभी Packets को प्राप्त करना होता है।

Use of Internet in hindi – इंटरनेट के क्या उपयोग है? या Internet का उपयोग क्यों किया जाता है?

1. File Upload या Download करने के लिए

Internet के मदद से बहुत सारे कंपनियों ने अपना Website बना कर उस पर Movies, Songs, Videos, Apps, Documentaries इत्यादि जैसे Files Upload कर रखा है जिसे देखने या उपयोग करने के लिए पहले Download करना परता है और आप ये जानते हैं की किसी भी Files को Download करने के लिए internet की आवयश्कता परता हैं।

2. Education के लिए

आभी के समय में यैसे बहुत से Institute है जो online क्लास कर्बाता है या online Courses provide कर्बाता है और इसके बदले कुछ paise charges करता है। Internet का उपुयोग करके आप यैसे institute से online क्लास करके अपनी पढाई कर सकते है।

3. Electronic mail (Email) की आदान प्रदान करने के लिए

Internet का कुल उपयोगकर्ता में लगभग 85% लोग Email (Electronic mail) भेजने और प्राप्त करने के लिए internet का उपयोग करते हैं। पूरी दुनियां में एक सप्ताह में लगभग 20 million से भी ज्यादा Emails का आदान प्रदान किया जाता है।

4. Online shopping करने के लिए

पहले के समय में अगर खरीददारी करना होता था तो लोगो को market जाना परता था जिससे market में काफी भीर होता था और दुकानों में भीर होने की बजह से लोगो को कोई भी सामान लेने में काफी समय भी लग जाता था।

लेकिन अभी के समय में Internet का उपयोग करके घर बैठे कुछ भी online sopping (ऑनलाइन खरीददारी) किया जा सकता है और सामान पसंद ना आने पर कंपनी के द्वारा दिए गए वापसी समय पर उस सामान को Replace किया जा सकता है या सामान return कर paise भी refund लिया जा सकता है।

5. Online काम करने के लिए

यैसे बहुत से कार्य है जिसे इटरनेट की मदद से online किया जा सकता है जैसे online billing करना, online data entry करना आदि।

6. Job की तलाश करने के लिए

अभी के समय में अधिकतर लोग job के लिए कंपनियों और फैक्ट्रियों के चकर नहीं काटते हैं क्योंकि अभी के समय सब कुछ digital होने की बजह से कंपनियों ने भी online vacancy निकालने लगा है। company खुद की website पर vacancy निकालता है या किसी यैसे website पर vacancy निकालता है जो website online vacancy की जानकारी लोगो तक पहुंचता हो।

सायद आप Naukri.com के नाम सुने होंगे जो एक job vacancy की जानकारी देता है। यैसे Workindia, Apna app जैसे कई और website है जो online vacancy provide करता है, लेकिन इस तरह का website का use करने के लिए पहले आपको उस website पर अपना account बनाना परता है और अपना Education जानकारी और job exprence की जानकारी देना परता है जिसके आधार पर ही आपको job की जानकारी दिया जाता है।

7. Online जानकारी लेने के लिए

पहले लोगो को कोई जानकारी चाहिये होता था तो लोग अपने से ज्यादा पढ़े लिखे लोग से पूछते थे या अपने से बड़े उम्र के लोग से पूछते थे और जिसके बाद भी उनको पूरी जानकारी नही मिल पाता था। लेकिन अभी के की समय में internet की मदद से कुछ ही समय में किसी भी चीज की जानकारी प्राप्त किया जा सकता है।

8. Online News पढ़ने के लिए

अभी के समय में ज्यादतर लोग Internet के मदद से ही Online न्यूज़ पढ़ लेते हैं या देख लेते हैं। पहले की लोग न्यूज़ की जानकारी के लिए घंटो Newspaper पढ़ते थे या घंटो TV पर न्यूड देखते थे जो की अभी की डिजिट युग में बिलकुल नही के बराबर ही करते हैं।

9. Entertainment के लिए

अभी के समय में internet का उपयोग बहुत हद तक मनोरंजन के लिए किया जाता है जैसे की Online video या Movie देखने के लिए, Online songs सुनने के लिए, Online sports देखने के लिए आदि।

10. Online पैसे ट्रान्सफर या Internet Banking के लिए

आज के समय में किसी को अगर पैसा के लिए पैसे चाहिए तो लोग bank का चाकर नहीं लगाता है बल्कि Internet banking या phone banking का उपयोग कर online paise ट्रान्सफर कर देता है जो की उसी समय दुसरे को मिल जाता है।

अगर किसी को कुछ खरीदना हो तो जेब में paise होना जरुरी नहीं बल्कि उसके खाता में पैसा होना जरुरी है। अभी बहुत सारे online pay apps आ चूका है जिसके मदद से आप online खरीददारी कर सकते हैं या कोई सामान खरीद कर तुरंत अपने mobile से online paise भेज सकते हैं।

11. Group’s discussion के लिए

Internet का उपयोग करके social media पर groups बनाकर कर किसी भी टॉपिक के ऊपर Groups discussion किया जा सकता है और किसी टॉपिक की Experts से advice ले सकते हैं।

12. Friends बनाने और Chatting करने के लिए

Internet का उपयोग करके आप Social media पर अपने हजारों friends बना सकते हैं और उससे connect रह सकते हैं। इतना ही नहीं Internet का उपयोग कर आप social media के द्वारा अपने school friends से connect हो सकते हैं और अपने दोस्तों, रिस्तेदानों से chatting कर सकते हैं।

13. Video call करने के लिए

अभी बहुत से video call प्लेटफॉर्म आ गया है जिसमे Internet के मदद से आप अपने दोस्तों, परिवारों और रिश्तेदारों से video कल के द्वारा आमने सामने बात कर सकते है। Video call का उपयोग ऑफिक की कार्य के लिए भी किया जाता है जैसे की online इंटरव्यू लेने के लिए, Online मीटिंग करने के आदि।

Internet का उपयोग कैसे किया जाता है?

इस आर्टिकल के माध्यम से अब हम जानेंगे की कैसे आप अपने Computer और Mobile में Internet चला सकते हैं। तो चलिए हम जन लेते है की Internet का उपयोग कंप्यूटर और मोबाइल में कैसे किया जाता है?

कंप्यूटर में Internet कैसे चलाये?

Computer में internet का उपयोग करने के लिए आपको किसी Internet Service Provider (ISP) से Broadband Internet Connection या Wireless Internet Connection लेना परेगा और इस connection के माध्यम से अपने कंप्यूटर या PC में Internet चला सकते हैं।

यदि आपके पास अलग से connection लेने का पैसा नहीं है या आप Connection लेना नहीं चाहते हैं तो आप अपने Mobile में Hotsport on करके भी अपने कंप्यूटर में Internet access कर सकते हैं। Mobile कंप्यूटर में आप दो तरीके से internet चला सकते हैं,

  1. आपको अपने mobile का hotsport On कर लेना है और फीर कंप्यूटर का WiFi On कर के अपने mobile का internet access कर सकते हैं।
  2. Data cable के माध्यम से अपने mobile को कंप्यूटर से connect करना है और फीर mobile का USB tethering चालू करके अपने कंप्यूटर में internet access कर सकते हैं।

Mobile में Internet कैसे चलाये?

ज्यातर Smartphone में Internet access करने के लिए दो अलग अलग technology का उपयोग किया जाता है, पहला Cellular network का उपयोग किया जाता है जैसे की Airtel, VodafonIdea, Jio इत्यादि और दूसरा Wireless connection जैसे की WiFi के द्वारा internet access करना।

Mobile में Cellular network उपयोग करने का बहुत ज्यादा फायदा है क्योकि आप इसके मदद से अपने Smartphone में कही भी और कभी भी internet access कर सकते हैं।

Internet की विकाश

आज से 15 से 20 साल पीछे की भारत को देखे तो सभी लोग बिलकुल अलग होते थे,लोगो के पास समय होता था, कुछ लोग एक जगह बैठ कर बात बिचार करते थे, लोग अपने दोस्तों और रिश्तेदारों से कुछ ही दिन बाद मिलने चले जाते थे यानि कहने के मतलब ये है की लोगो के पास उतना पैसा नही होता था लेकिन लोगो को एक दुसरे से लगाव बहुत होता था।

लेकिन आज के समय में ठीक उसका उल्टा होता है, लोगो को इतना समय नहीं है की किसी के पास बैठ कर हाल चल पूछ ले या उनसे थोरा बात कर ले। लोग एक जगह बैठा तो होता है लेकिन सब अपने काम या phone में internet चलाने में व्यस्त होते हैं। लोग अभी किसी से मिलने नहीं जाते है बल्कि phone करके उनका हाल जान लेते हैं।

इसी के आधार पर आप सोच सकते हैं की भारत में जब 1995 ई० internet आया तब से internet का इतना तेज़ विकाश हो रहा है, इसी तरह internet की जब शुरुआत हुयी होगी तबसे भी internet इसी तरह विकाश करता होगा। चलिए आपको थोरा आसान तरीके से समझता हूँ की internet का विकाश किस तरह हो रहा है?

Internet जब 1969 ई० में सुरु हुआ था तब GPRS data प्रदान करता था लेकिन अभी 5G data की high speed की तरक्की कर चूका है और आने वाले समय में सायद और भी ज्यादा तरक्की करेगा। अभी internet हमारे जीवन का बहुत महत्वपूर्ण जरुरत बन चूका है या फीर ये कहना गलत नहीं होगा की हमारे जीवन ही internet का अधीन हो चूका है।

सन 1969 ई० में अमेरिका सुरक्षा विभाग ने Advanced Research Projects Agency (ARPA) की मदद से पांच विश्यविधालय (Univercities) की computers को आपस में connect करने के लिए ARPANET की अस्थापना किया। इसको बनाने का मुख्य उधेश्य ये था की जब जंग के दौरान सभी communicate करने वाले उपकरण का नाकाम हो जय तब ARPANET के मदद से communicate किया जा सके।

  • बाद में इसमें विकाश हुआ और 1972 ई० में Electronic mail (Email) की शुरुआत हुआ।
  • सन 1973 ई० में TCP और IP technology ने ARPANET का रूप रेखा ही बदल दिया।
  • सन 1980 ई० में विकाश को देखते हुए ARPANET का नाम बदल कर INTERNET कर दिया गया, तबसे इसे Internet के नाम से ही जाना जाता है। इसी साल 1g network आया और Internet की speed बड़ा कर 2.4 kbps कर दी गयी।
  • पहले होस्ट को एक Numbric number से पहचान किया जाता था लेकी सन 1984 ई० में Domain Name System (DNS) को Introduce किया गया और Host को एक नाम दिया गया।
  • इसके बाद सन 1991 ई० में 2g network की शुरुआत किया गया जिसके मदद से Calling की Voice Quality में सुधार आया। 2g network की मदद से Multimedia files और Text को send या receive किया जा सकता था।
  • इसके बाद इसमें काफी सुधार किया गया जिससे 2g को upgrade करके 2.5g और 2.7g किया गया।
  • फीर सन 1993 ई० में National Central of Supercomputing Application ने Magine नाम की networking system को लाया जिसके मदद से Internet पर text और graphic को देखने और पढने में आसानी हो गयी जिससे internet को लोग और ज्यादा पसंद करने लगे।
  • सन 1995 ई० में Microsoft ने अपना Web Browser लाया जिसके मदद से किसी भी website से बहुत आसानी खोला जा सकता था।
  • फीर 1997 में एक domain के तौर google.com को रजिस्टर किया गया और 1998 में search engine live किया गया।
  • इसके बाद 2001 ई० में जापान में 3g network की शुरुआत हुआ जिससे internet की speed में बहुत बदलाब आया और internet की speed 21 mbps तक को गया। उस समय internet उपयोगकर्ता बहुत तेजी से बढ़ने लगा क्योंकि internet की मदद से तब video calling भी होने लगा।
  • 4g technology आने से तो internet की दुनियां ही बदल गया। 4g network से दुनियां digital बन गया और हर काम को digital तरीके से किया जाने लगा। लोग HD quality में video calling करने लगे हैं और लोग अपने mobile या TV पर बिना Movie और Video देखने लगा है। यहाँ तक की अब क्रिकेट और News भी LIve देखा जाता है वो भी internet की रुकाबत के बिना।
  •  India अब 5g network आ गया है लेकिन अभी ये public के उपयोग में नहीं लगा गया है। 5g का speed बहुत ज्यादा होगा इसलिए इसके मदद से future में Ultra HD videos देख सकेंगे। इस technology के मदद से बिना ड्राईवर की चलने वाले गारी को बनाया जायेगा। यैसा लगता है की 5g network internet की क्षेत्र में एक क्रांति सी ला देगी।

Internet का क्या लाभ है? या क्या विशेषता है?

Internet का उपयोग करने का बहुत सारा फायदा है जो निम्नलिखित है-

  1. Internet के उपयोग कर आप बहुत कुछ Online Booking कर सकते है, जैसे Online Ticket booking करना, Online Hotel booking करना आदि।
  2. Internet के माध्यम से आप Online Bill payment कर सकते है, जैसे- बिजली का बिल, गैस का बिल, पानी का बिल, Phone बिल, Credit कार्ड बिल आदि, इसके अलावा और भी बहुत सारे बिल का आप online payment कर सकते हैं।
  3. Internet के द्वारा आप सभी Online Recharge कर सकते हैं, जैसे- Mobile Recharge करना, DTH Recharge करना, Metro Card Recharge करना आदि।
  4. Internet के द्वारा आप Online office work भी कर सकते हैं और कार्य होने पर अपने बॉस को प्रोजेक्ट submit कर सकते हैं।
  5. Internet के द्वारा आप घर बैठे अपने और अपने Family के लिए Online Shopping कर सकते हैं।
  6. आप अगर कोई Business करते है तो internet के माध्यम से Online store या E-commerce website बनाकर आप अपने business का grow कर सकते हैं।
  7. आप internet का उपयोग कर अपने business के लिए online marketing भी कर सकते हैं।
  8. Internet के द्वारा आप अपने दोस्तों या परिवारों को online massage भी भेज सकते है या उनका massage प्राप्त कर सकते हैं।
  9. Internet का उपयोग करके आप Online entertainment भी कर सकते है जैसे- की आप online movie देख सकते हैं, online game खेल सकते हैं, online sports देख सकते हैं आदि।  
  10. आप online पढाई करके किसी job की तैयारी कर सकते हैं या job की सुचना प्राप्त कर सकते है और job के लिए online application भी भर सकते हैं।

Internet का उपयोग करने से क्या हानि होता है?

आपको पता होगा की सभी चीज का दो पहलु होता है एक अच्छा तो दूसरा ख़राब होता ही है, इसी प्रकार internet का उपयोग करने का भी बहुत सारा लाभ है तो इसके साथ साथ हुछ हानी भी है जो की निम्नलिखित है-

  1. अभी के समय में बहुत सारे यैसे लोग भी हैं जो internet का उपयोग काम करने के लिए नहीं करता है बल्कि मनोरंजन या किसी और चीज के लिए करके है । यैसे लोग internet का उपयोग कर अपने कीमती समय को बर्बाद करता है।
  2. अगर आप internet का उपयोग करते हैं तो आपको paise भी खर्च करना परेगा क्योंकि internet free नहीं है और internet चलाने के लिए आपको data recharge करना परेगा।
  3. Internet की उपयोग से अश्लीलता को बरे आसानी से फैलाया जाता है या Internet से अश्लीलता को बहुत बढ़ाबा मिलता है, जिससे लोगो की छबियां भी ख़राब होता है।
  4. Internet की माध्यम से हैकिंग के साथ साथ धोकेधारी को भी बढ़ाबा मिलता है।
  5. अगर आपको Internet चलाने की लत लग जाये तो internet के बिना आपको मन ही नहीं लगेगा।
  6. internet का ज्यादा उपयोग करने से आपकी स्वास्थ और आँखों पर भी ज्यादा प्रभाब पर सकता है।

Internet के बारे में अधिकतर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)

Internet kya hai

Internet सूचना तकनीक का सबसे आधुनिक (Latest) प्रणाली है।

Internet का स्थापना किसने क्या था?

Internet का स्थापना अमेरिका के Advanced Research Projects Agency (ARPA) ने किया था।

इंटरनेट कब सुरु हुआ था?

Internet का शुरुआत 1969 ई० में किया गया था उस समय internet का नाम ARPANET रखा गया था

भारत में इंटरनेट कब सुरु हुआ था?

भारत में Internet का 1995 ई० में शुरुआत हुआ था।

Internet की पहले का नाम क्या है?

ARPANET (Advanced Research Projects Agency Networks)

Internet Meaning in hindi – इंटरनेट का हिंदी अर्थ क्या है?

Internet का हिंदी अर्थ अंतरजाल होता है।

Internet का full form क्या है?

Internet का पूरा नाम Inter Connected Networks होता है।

Conclusion / निष्कर्ष (इस आर्टिकल Internet kya hai में आपने जाना)

दोस्तों मुझे उमीद है की आपको ये आर्टिकल Internet kya hai अच्छा लगा होगा और इस आर्टिकल को पढने के बाद आपको internet से जुरे सभी जानकारी मिल गया होगा। इस आर्टिकल को पढ़ कर आपको internet की पूरी जानकारी हिंदी में और सरल भाषा में समझ आगया होगा।

वैसे तो मैं  इस आर्टिकल Internet kya hai में सब कुछ सही-सही और सरल भाषा में समझाने की कोशिश किया हूँ फ़ीर भी आपको पढ़ कर लगे की इस आर्टिकल में कुछ त्रुटी है तो आप मुझे comment करके बता सकते हैं, मेरा पुअर कोशिश रहेगा की मैं उस त्रुटी को सही कर दूँ।

अगर इस आर्टिकल Internet kya hai को पढ़ कर आपके मन में कोई प्रश्न आया हो या आप मुझने digital marketing से retailed कोई जानकारी लेना चाहते हैं तो आप मुझे comment कीजिये या फीर मेरे इस ब्लॉग rahiweb.com के Contact Us page में जाकर मुझे contact सकते है। मैं आपके सवालों का जवाब जल्द से जल्द देने का कोशिश करूँगा। इस आर्टिकल Internet kya hai को पढने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यबाद।

Internet kya hai” को पढने के बाद ये जानकारी भी पढ़े –

Google क्या है?

Mobile से blogging करके पैसे कैसे कमाये?

YouTube se paise kaise kamaye?

Facebook से पैसे कैसे कमाये?

Instagram क्या है और कैसे चलाते हैं?

ब्लॉग्गिंग क्या है? और ब्लॉग्गिंग से पैसे कैसे कमाये?

घर बैठे online पैसे कैसे कमाये?

Social media optimization क्या है?

Social media marketing kya hai?

Digital marketing क्या है?

Email marketing kya hai?

Affiliate marketing क्या है?

PhonePe क्या है और कैसे उपयोग करे?

Google pay क्या है और कैसे उपयोग करे?

eRupi क्या है और eRupi को use करने से क्या फायदा होगा?

UPI क्या क्या और इसका उपयोग कैसे करें?

MS Word kya hai? – एम एस वर्ड कैसे सीखें?

MS Excel kya hai? – excel क्या है और कैसे सीखे?

MS Office kya hai? – एम एस ऑफिस क्या है?

Computer Shortcut key list in hindi

Instagram क्या है और कैसे चलाते हैं?

ब्लॉग्गिंग क्या है? और ब्लॉग्गिंग से पैसे कैसे कमाये?

Facebook kya hai? और facebook कैसे चलाते हैं?

गूगल एड्स क्या है?

Google adsense से पैसे कैसे कमाये?

Leave a Comment