RAM kya hai aur kitne prakar ke hote hain | What is RAM in hindi

दोस्तों आज के इस आर्टिकल “RAM kya hai” में मैं आपको RAM की पूरी जानकारी हिंदी में देने वाला हूँ जिसमे आप जानेंगे की RAM क्या है, RAM कितने प्रकार के होते हैं (Types of RAM in hindi), RAM की परिभाषा क्या है, RAM का पूरा नाम क्या है (full form of RAM in hindi), RAM कैसे काम करता है और कंप्यूटर में RAM का क्या उपयोग है?

अगर आप कंप्यूटर साइंस का स्टूडेंट हैं या आप कंप्यूटर की RAM की पूरी जानकारी लेना चाहते हैं तो ये आर्टिकल आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण होगा। आपसे अनुरोध है की आप इस आर्टिकल “RAM kya hai” को शुरू से लेकर अंत तक अवश्य पढ़े तभी आपको RAM की पूरी जानकारी मिल पायेगा।

आपको तो पता होगा की आज के समय में हर काम को डिजिटल तरीके से किया जाने लगा है और दिन प्रतिन बहुत सारे नए नए technology का विकाश हो रहा है। एडवांस new technology के आने से लोग डिजिटल work को काफी Smart तरीके से और Fast करने लगा है।

अभी के समय में सभी काम को डिजिटल तरीके से करने के लिए कंप्यूटर का उपयोग किया जाता है। क्योंकि की कंप्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर से मिल कर ही बनता है और RAM कंप्यूटर हार्डवेयर का की एक part है, इसलिए कंप्यूटर की पूरी जानकारी के लिए RAM की जानकारी होना आवयश्क है। तो चलिए इस आर्टिकल “RAM kya hai” के माध्यम से मैं आपको RAM की पूरी जानकारी देता हूँ जिसमे सबसे पहले आप जानेंगे की RAM क्या होता है?

RAM क्या है? (RAM kya hai – What is RAM in hindi)

RAM कंप्यूटर हार्डवेयर का एक महत्वपूर्ण भाग होता है जो Storage device की category में आता है। RAM का पूरा नाम (full form) Random Access Memory होता है और RAM को Main memory भी कहा जाता है।

RAM में CPU के द्वारा वर्तमान में होने वाले कार्य को स्टोर किया जाता है। CPU के द्वारा जब processing पूरा हो जाता है और यूजर खुले हुए एप्लीकेशन या प्रोग्राम को बंद कर देता है तो RAM अपने अंदर स्टोर कार्य को हटा देता है।  

RAM kya hai
RAM_kya_hai_hindi

कंप्यूटर में Primary और Secondary दो तरह का मेमरी होता है। कंप्यूटर की प्राइमरी memory भी दो प्रकार के होते है जिसे RAM और ROM कहा जाता है।

RAM कंप्यूटर या mobile की Primary memory का एक प्रकार होता है जो यूजर के द्वारा कंप्यूटर में दिए गए निर्देश को Temporary स्टोर करने का काम करता है। आसान भाषा में समझे तो कोई भी यूजर कंप्यूटर को जब इनपुट के रूप में निर्देश देता है तो पहले वो इनपुट RAM में Temporary स्टोर होता है और फीर RAM से CPU में जाता है, जिसके बाद CPU उसे process करता है।

CPU के द्वारा process पूरा होने पर यूजर जब इनफार्मेशन को स्टोर करता है तब वो इनफार्मेशन कंप्यूटर की हार्ड ड्राइव में save होता है।

RAM कितने प्रकार के होते हैं? (Types of RAM in hindi)

RAM दो प्रकार के होते हैं जिसे SRAM और DRAM के नाम से जाना जाता है। तो चलिए RAM के दोनों प्रकार के बारे में थोरा विस्तार से जान लेते हैं।

SRAM (Static Random Access Memory)

SRAM का पूरा नाम (full form) Static Access memory है। इस memory में Data स्थिर रहता है जिससे इसे बार बार Refresh करने की आवयश्कता नहीं परता है।

SRAM को Cache memory के रूप में उपयोग किया जाता है क्योंकि इसमें स्टोर data कंप्यूटर में पॉवर रहने तक स्टोर रहता है और जैसे की कंप्यूटर की पॉवर कट होता है इसका data delete हो जाता है।

DRAM (Dynamic Random Access Memory)

DRAM का पूरा नाम (full form) Dynamic Random Access Memory होता है। DRAM में स्टोर data परिवर्तित होता रहता है जिससे DRAM को बार बार रिफ्रेश करना परता है।

DRAM में data को Randomly रिसीव किया जाता सकता है इसलिए CPU की Main memory के रूप में DRAM का उपयोग किया जाता है।

कंप्यूटर में पॉवर रहने तक ही DRAM में भी Data स्टोर रहता है और जैसे ही कंप्यूटर की पॉवर जाता है इसमें स्टोर data भी delete हो जाता है।

DRAM का प्रकार

DRAM तिन प्रकार का होता है जो निम्नलिखित है।

EDODRAM (Extended Date Out Dynamic Random Access Memory)

SDRAM (Synchronous Dynamic Random Access Memory)

DDRDRAM (Dauble Date Rate Dynamic Random Access Memory)

RAM की परिभाषा (Deffination of RAM in hindi)

RAM कंप्यूटर हार्डवेयर का महत्वपूर्ण भाग है जो प्राइमरी मेमोरी का एक प्रकार आता है। RAM कंप्यूटर के अंदर Temprory memory के रूप में काम करता है जो Storage device के होता है।

RAM का पूरा नाम (full form) क्या है? (Full Form of RAM in hindi)

RAM का पूरा नाम (Full Form) RANDOM ACCESS MEMORY (रैंडम एक्सेस मेमोरी) है। जिसका हिंदी में मतलब यद्रिक्षिक पहुंच मेमोरी है।

RAM कैसे काम करता है?

RAM temporary memory है इसलिए इसमें कोई भी data या एप्लीकेशन को temporary ही save रहता है। अचानक पॉवर कट होने पर RAM में स्टोर program या एप्लीकेशन delete हो जाता है।

मान लीजिये आप अपने ऑफिस में बैठे हुए हैं और आपको काम करने के लिए एक फाइल चाहिए और फाइल किसी दुसरे कमरे में रखा है। जब आपको file से काम होगा तो आप दुसरे कमरे में जाकर उस फाइल को ले आयेंगे और उस फाइल को अपने डेस्क पर रख कर काम करने लग जायेंगे।

लेकिन कभी यैसा भी होता है की आपके पास एक साथ बहुत सारे काम आ जाता है जिसके लिए आपको बहुत सारे फाइल की आवयश्कता होगा। अब आपको अपने सामने ज्यादा file रख कर काम करने के लिए ज्यादा बरा डेस्क की आवयश्कता होगा। अब आप जिस भी फाइल में काम करेंगे और उस फाइल का काम पूरा हो जायेगा तो आप उसे वापस उसी कमरे में रख देंगे जहाँ से लाये थे।

कंप्यूटर और mobile में लगे RAM भी इसी तरीके से काम करता है। कोई भी फाइल, data या एप्लीकेशन कंप्यूटर या mobile के internal memory यानि हार्ड ड्राइव में स्टोर रहता है। जब भी आप कंप्यूटर को कोई निर्देश देते हैं, तो RAM आपने निर्देश के अनुशार उस एप्लीकेशन या फाइल को हार्ड ड्राइव से लेकर रन करता है और CPU में भेजता है। फीर CPU आपने निर्देश के अनुशार उस एप्लीकेशन पर processing करता है।

आप किसी game को अपने mobile में install करते हैं तो वो RAM में स्टोर नहीं हिता है बल्कि mobile के internal memory में स्टोर होता है और जब आप उस game पर click करते हैं तो वो रन करने के लिए mobile की internal memory से RAM में आजाता है जिससे RAM काम करने लग जाता है।

इस बिच CPU और RAM की बिच बहुत तेज़ी से इनफार्मेशन का आदान प्रदान होने लगता है। जब आपके कंप्यूटर या mobile के RAM कम होता है और आप एक बार में कई सारे बरे बरे एप्लीकेशन खोल देते हैं तो इस स्थिति में कंप्यूटर या mobile हेंग करने लग जाता है। इसलिए कहा जाता है की मल्टीटास्किंग के लिए ज्यादा RAM की आवयश्कता होता है।

कंप्यूटर में RAM का क्या उपयोग है?

कंप्यूटर में RAM का उपयोग स्टोरेज device के रूप में क्या जाता है जिससे कंप्यूटर में जब भी यूजर के द्वारा इनपुट दिया जाता है तो पहले वो RAM में स्टोर होता है और फीर RAM से cpu में जाता है।

जब भी यूजर कंप्यूटर में कोई एप्लीकेशन खोलता है तो RAM उस एप्लीकेशन को कंप्यूटर की हार्ड ड्राइव से एक्सेस करके अपने अंदर रन करता है और जब तक उस एप्लीकेशन को खोल कर काम किया जाता है तब तक वो एप्लीकेशन RAM में ही रन होता रहता है।

जब CPU के द्वारा processing पूरा हो जाता है और यूजर एप्लीकेशन program को क्लोज कर देता तब RAM अपने अपने अंदर रन हो रहे एप्लीकेशन को delete कर देता है।

FAQ – RAM के बारे में पूछे जाने वाले अधिकतर प्रश्न-
RAM क्या है?

RAM कितने प्रकार के होते हैं?

RAM दो प्रकार के होते हैं, पहला SRAM और दूसरा DRAM होता है।

RAM का फुल फॉर्म क्या है?

Random Access Memory (रैंडम एक्सेस मेमोरी)

अभी के mobile या कंप्यूटर में कमसे कम कितना RAM होना चाहिए?

2 GB का

RAM का साइज़ कैसे पता करें?

कंप्यूटर या मोबाइल में कम से कम कितना RAM होना चाहिए?

Conclusion / निष्कर्ष –

दोस्तों मैं उमीद करता हूँ की आपको इस आर्टिकल “RAM kya hai” को पढ़कर अच्छा लगा होगा और आपको इस लेख में RAM की पूरी जानकारी मिल गया होगा। इस लेख में आपको RAM की जानकारी सही लगा तो आप इस लेख को अपने दोस्तों को अवश्य शेयर कीजिये ताकि उन्हें भी RAM की सही जानकारी मिल सके।

अगर आप इस लेख “RAM kya hai” को शुरू से अंत तक पढ़े होने तो आपको RAM की पूरी जानकारी अवश्य मिला होगा। इस लेख को पढने के बाद RAM क्या होता है, RAM कितने प्रकार का होता है, RAM पूरा नाम क्या है, RAM कैसे काम करता है और कंप्यूटर में RAM का क्या उपयोग है, आपके मन में आने वाले RAM से जुरे इस तरीके की सभी सवालो जा जवाब मिल गया होगा।

वैसे तो मैं इस लेख “RAM kya hai”में RAM की पूरी जानकारी विकुल सही सही और आसान भाषा में दिया हूँ जिससे छोटे बच्चे को भी समझ में आजायेगा। फीर भी इस लेख को सही से पढने के बाद आपको लगे की इसमें कुछ गलती है या इसमें कुछ छुट गया है तो आप मुझे कमेंट करके अवश्य बयाइए मैं उसे तुरंत शुधारने की कोशिश करूँगा।

इस लेख “RAM kya hai” को पढने के बाद आपके मन में कोई प्रश्न आया या आप Online पैसे कमाने के बारे में, डिजिटल marketing के बारे में और कंप्यूटर के बारे में कुछ पूछना चाहते हैं तो आप मुझे कमेंट कर सकते हैं या मेरे इस ब्लॉग Rahiweb.com के Contact Us पेज में जाकर मुझे contact कर सकते है।

ये जानकारी भी पढ़े-

सर्वर क्या होता है और कितने प्रकार का होता है?

कंप्यूटर क्या है? कंप्यूटर की पूरी जानकारी हिंदी में

मॉनिटर क्या है? मॉनिटर की पूरी जानकारी हिंदी में

कीबोर्ड क्या है और कितने प्रकार के होते हैं?

माउस क्या है और कितने प्रकार के होते हैं?

सॉफ्टवेयर क्या है और कितने प्रकार का होता है?

MS Word kya hai? – एम एस वर्ड कैसे सीखें?

MS Excel kya hai? – excel क्या है और कैसे सीखे?

MS Office kya hai? – एम एस ऑफिस क्या है?

Leave a Comment